दलाल स्‍ट्रीट: सितारे निराश नहीं करेंगे निवेशकों को PDF Print E-mail
खास फीचर ( Khash Feature )
Written by संगीता पुरी   
रविवार, 28 मार्च 2010 11:11


sangita-puri भारतीय शेयर बाजार में लगभग छह सप्‍ताह पूर्व ही मैने 25 मार्च तक बाजार के बढ़त में रहने की उम्‍मीद जताई थी। इस कारण पिछले सप्‍ताह जितने बडे़ स्‍तर पर मैने शेयर बाजार के बने रहने की कल्‍पना की थी, वह तो नहीं दिखाई पडी लेकिन सेंसेक्‍स और निफ्टी की स्थिति मेरे अनुमान के मुताबिक ही बनी रही। मैंने लिखा था कि 22, 23 मार्च को बाजार मजबूती के साथ खुलेगा। यदि किसी कारणवश ऐसा नहीं हो सका,  तो थोडी़ ही देर में बढ़त की उम्‍मीद बनेगी। लेकिन अंत तक बिकवाली का दबाब झेलने को भी इसे मजबूर होना पड़ सकता है और सचमुच बाजार में ऐसा ही देखने को मिला।

25 और 26 मार्च के बारे में मैने लिखा था कि अर्थव्‍यवस्‍था से जुड़ी किसी महत्‍वपूर्ण सकारात्‍मक खबर के कारण सेंसेक्‍स और निफ्टी में बडी़ बढो़तरी दर्ज होनी चाहिए। दोनों ही दिन भारतीय बाजार के बंद होने तक यानि अंत तक निवेशकों का उत्‍साह बढा़ रहेगा और शेयरों की खरीदी होती और सप्‍ताह के अंत तक ऑयल गैस और मेटल के शेयरों में अधिक बढो़तरी दिखाई दे रही है और सचमुच ऐसा ही हुआ।

खाद्य पदार्थों की महंगाई दर चार महीने के न्यूनतम स्तर पर एवं भारती एयरटेल के जईन टेलीकाम अधिग्रहण सौदे के अंतिम चरण में पहुंचने की खबर के बाद बहुत बडे1 स्‍तर पर न सही लेकिन बाजार में बढत अवश्‍य देखने को मिली। अंतिम कारोबारी घंटे में घरेलू शेयर बाजारों में तेजी आने एक और वजह यूरोपीय शेयर बाजारों में अचानक शॉर्ट-कवरिंग बढऩा भी रही। यूरोपीय बाजारों से बेहतर खबरें मिलने के बाद शेयर बाजार आखिरी घंटे में हरे निशान पर वापस आया। विशेषज्ञों के अनुसार आनेवाले दिनों में भी शेयर बाजार में बढो़तरी की उम्‍मीद दिखती है।

आने वाले एक दो महीनों में आसमान के ग्रहों को देखते हुए ‘गत्‍यात्‍मक ज्‍योतिष’ शेयर बाजार की स्थिति को काफी मजबूत नहीं देख रहा है। वैसे अगले सप्‍ताह बाजार की स्थिति उतनी निराशाजनक भी नहीं दिख रही है। 29 मार्च को बाजार बहुत ही अच्‍छा दिखाई दे रहा है। खासकर मेटल के शेयरों में आई बढो़तरी के कारण अन्‍य क्षेत्रों में भी बढ़त की संभावना बनेगी और सेंसेक्‍स और निफ्टी में बढ़त के कारण दलाल स्‍ट्रीट में रौनक बनी रहेगी । शुरूआत कुछ कमजोर भी हो तो अंत तक शेयर बाजार में काफी बढ़त दिखाई दे रही है।

29 मार्च के ग्रह योग का आंशिक प्रभाव 30 मार्च को भी दिखाई पडेगा, इसलिए यह दिन भी तेजी का माना जा सकता है, पर उसके बाद के तीनों दिन में बाजार में थोडी़ अनिश्चितता देखने को मिल सकती है। हालांकि इस सप्‍ताह की ग्रह स्थिति प्रतिदिन बाजार के अपने स्‍तर को बनाए रखने में मदद करती दिखाई दे रही है, इसलिए बहुत निराशा की कोई बात नहीं। बाजार के कमजोर होते ही शेयरों की खरीदी होगी और यही कारण है कि हो सकता है कि इस सप्‍ताह का अंत भी शेयर बाजार में सकारात्‍मक ही दिखाई पडे़।

संपर्क: This e-mail address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it

 

टिप्पणी जोड़ें


Security code
Refresh